गर्भावस्था में तनाव महिलाओं के लिए हो सकता है बेहद खतरनाक | Mix Pitara

0
54
प्रेग्नेंसी के दौरान गर्भ में पल रहे बच्चे के दिमाग पर असर डालता है उसकी मां का तनाव में होना. एक शोध में ये बात सामने आई है कि गर्भावस्था के दौरान तनाव लेनीवाली महिलाओं के होने वाले बच्चों के दिमाग पर बुरा असर पड़ता है. वहीं जो महिलाएं इन दिनों में तनाव मुक्त रहती हैं उनके बच्चे दिमागी तौर पर ज्यादा स्वस्थ रहते हैं. शोध के मुताबिक तनाव की वजह से गर्भवती महिलाओं का खान-पान समय पर नहीं होता, जिससे उनमें लगातार चिड़चिड़ापन बना रहता है. जो गर्भ में पल रहे बच्चे के दिमाग पर गहरा असर डालता है. आइए जानते हैं वो कुछ आहार जो प्रेग्नेंट महिलाओं को रोजाना खाना चाहिए. जिससे उनके गर्भ में पल रहा बच्चा दिमागी तौर पर स्वस्थ रहे…

बिना हरी साग-सब्जी के हेल्दी डाइट अधूरी होती है. इसलिए पालक, सरसो के पत्ते, मूली के पत्ते और मेथी के पत्तों को डाइट में शामिल करें. हम सभी जानते हैं कि दूध सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है. इसमें मौजूद कैल्शियम तनाव को भी कम करता है. चिड़चिड़े स्वभाव वालों को रात में सोने से पहले दूध का सेवन अवश्य करना चाहिए. विटामिन-सी युक्त चीजों के सेवन से ना केवल मां का प्रतिरक्षा तंत्र मजबूत होता है बल्कि तनाव के हार्मोन्स भी घटते हैं. संतरे का सेवन करना शुरू कर दें. वैसे तो हर तरह का अनाज प्रेग्नेंसी के दौरान मां के लिए जरूरी होता है, लेकिन ब्राउन राइस में प्रचुर मात्रा में मैग्नीशियम होता है जिसे डाइट में शामिल करने से तनाव मुक्त होने में मदद मिलेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here