जानिए क्या होता है मेटास्टेटिक कैंसर..?

0
29
जब कैंसर सेल्स प्राइमरी स्पॉट से अलग होकर लिम्फ सिस्टम या ब्लड के जरिए अन्य हिस्सों में फैल जाती है, उसे  मेटास्टेटिक कैंसर कहते हैं. कैंसर सेल्स शरीर के अन्य हिस्सों में ट्यूमर बनाती हैं, जिन्हें मेटास्टेटिक ट्यूमर के रूप में जाना जाता है. मेटास्टेटिक एक गंभीर स्टेज है, इसमें कैंसर शरीर के अन्य हिस्सों में फैल सकता है. मेटास्टेटिक कैंसर के प्राइमरी रूप के समान होता है. बता दें कि बॉलीवुड अभिनेत्री सोनाली बेंद्रे in दिनों इस जानलेवा बीमारी मेटास्टेटिक कैंसर से जूझ रही है.

कैसे फैलता है मेटास्टेटिक कैंसर?
ट्यूमर के फटने के बाद खून के जरिए यह कैंसर पूरे शरीर में फैलकर सबसे पहले हड्डियों को अपना शिकार बनाता है. इसके बाद यह कैंसर फेफड़ों, लिवर और दिमाग में फैलता है. इसके बाद यह ट्यूमर गर्भाशय, मूत्राशय, बड़ी आंत और ब्रेन बोन की तरफ बढ़ता है.

मेटास्टेटिक कैंसर के लक्षण?
इस कैंसर के सबसे आम लक्षणों में शामिल हैं हड्डियों में दर्द, उनका टूटना, मल-मूत्र पर कंट्रोल खोना, हाथ और पैरों में कमज़ोरी आना, खून में कैल्शियम की मात्रा बढ़ जाने की वजह से चक्कर, उलटी और दस्त होना.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here